मुम्बई । दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाज कैसिगो रबाडा ने कहा है कि टीम में अनुभवी खिलाड़ी होने के कारण मेरी जिम्मेदारी बढ़ गयी है। रबाडा ने कहा कि हमारी टीम के कुछ युवा खिलाड़ी पहली बार भारत में खेलेंगे जबकि मैंने यहां पहले खेला है। इस तेज गेंदबाज ने कह कि मैं केवल उन खिलाड़ियों के साथ अपने अनुभव साझा कर सकता हूं जो यहां नहीं खेले है। मुझे लगता है कि अनुभवी खिलाड़ी इस बड़े मंच पर अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं।' टीम के बारे में उनका कहना था, 'हम अगले एक-दो साल पर नजर रख रहे हैं। इसके बाद हम अपनी प्रगति की समीक्षा करेंगे।'
रबाडा ने जब अपने करियर की शुरुआत की तो टीम में डेल स्टेन और मॉर्नी मॉर्केल जैसे तेज गेंदबाज थे। उन्हें इस सीनियर खिलाड़ियों से काफी कुछ सीखने को मिला है। इसके अलावा एबी डि विलियर्स, हाशिम अमला और फाफ डु प्लेसिस भी युवा खिलाड़ियों का मार्गदर्शन करते थे। अब 37 टेस्ट और 75 एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने के बाद भी रबाडा को लगता है कि वह अभी भी सीख रहे हैं। उन्होंने कहा, 'मैं अपने खेल में लगातार सुधार कर रहा हूं।' स्टेन और मॉर्केल से मिली सीख के बारे में उन्होंने कहा, 'आप कामयाब लोगों को देखकर कुछ तकनीक सीखने की कोशिश करते हैं। और कुल मिलाकर देखा जाए तो यह अपने बेसिक्स ठीक रखने की बात है। इसके बाद अनुभव आपके बहुत काम आता है।'